SSC क्या है और SSC Ki Taiyari कैसे करे?

SSC क्या है और SSC की तैयारी कैसे करें


आज हर कोई सरकारी नौकरी पाना चाहता है! खासकर हमारे देश में लाखों युवाओं का यह ख्वाब होता है। लेकिन क्या सभी लोगों का यह सपना पूरा हो पाता है! जी नहीं उसका मुख्य कारण वर्तमान समय में प्रतियोगिता (कॉम्पिटिशन) है।

दोस्तों यदि आप एक विद्यार्थी हैं या आप एक ग्रैजुएट व्यक्ति हैं! इस स्तिथि में ज़्यादातर लोगों सरकारी नौकरी आपके लिए पहली प्राथमिकता होगी! यदि आप भी उनमें से हैं तो शायद आपने SSC का नाम जरूर सुना होगा! क्योंकि सरकारी नौकरी का नाम जब भी आता है तो SSC का हमारे दिमाग में जरूर ख्याल आता है! परंतु कई लोगों को खासकर जो 10th 12th के विद्यार्थी हैं उन्हें SSC के बारे में पूरी जानकारी नहीं होती। इसलिए आज का यह पोस्ट उन सभी युवाओं के लिए है जो भविष्य में SSC की नौकरी पाना चाहते हैं! क्योंकि यहाँ आज के इस लेख में आपको बताया जाएगा की SSC क्या है? SSC की फुल फॉर्म क्या होती है? तथा कैसे आप ssc की तैयारीकर सकते हैं!

तो दोस्तों यह लेख आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होने वाला है अतः इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े जिससे आपको SSC से संबंधित अनेक जानकारियां इस लेख में मिल पाएगी!


ssc-ki-taiyari-kaise-kare



अक्सर हम SSC की तैयारी तो करते हैं! परंतु हम SSC की फुल फॉर्म को नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन कई बार प्रतियोगी परीक्षाओं में यह सवाल आ ही जाता है कि SSC की फुल फॉर्म क्या है! इसलिए सबसे पहले एसएससी की फुल फॉर्म जानना जरूरी है !

SSC Full Form = Staff Selection Commission

Staff selection Commission (कर्मचारी चयन आयोग)

SSC का मुख्य कार्य आयोग नीतियां तैयार करना होता है! जिसमें विभिन्न परीक्षाओं तथा अन्य प्रक्रियाओं की योजना बनाना शामिल होता है! SSC को पहले अधीनस्थ सेवा आयोग के नाम से भी जाना जाता था। परंतु 1977 में यह नाम बदल दिया गया तथा वर्तमान समय में इसे हिंदी में कर्मचारी चयन आयोग कहते हैं।

दोस्तों सरल शब्दों में समझें तो SSC एक सरकारी संस्था है जिसका मुख्य कार्य पूरे देश में विभिन्न सरकारी विभागों के अंतर्गत अलग-अलग पदों के लिए होने वाली परीक्षा को आयोजित करना होता है। SSC का मुख्यालय दिल्ली में स्तिथ है। SSC के अंतर्गत प्रत्येक वर्ष विभिन्न पदों के लिए Vacancy निकलती है, परन्तु अब सवाल आता है कि आखिर SSC में कौन-कौन सी नौकरियां निकलती हैं या भर्तियाँ होती हैं !

SSC में कौन-कौन से Exams होते है

SSC CGL

CGL अर्थात combined graduate level examination इस परीक्षा में आवेदन करने के लिए आपका ग्रेजुएट होना जरूरी है। B.A, b.com या Bsc या किसी भी प्रकार की आप के पास एक ग्रेजुएशन डीग्री होना जरूरी हैं। इस परीक्षा को पास करने के बाद कैंडिडेट खाद्य विभाग या आयकर विभाग में नौकरी हेतु कार्य कर सकता है।

SSC CHSL

अर्थात Combined higher secondary level परीक्षा पास करने के बाद कैंडिडेट क्लर्क, LDC के पद पर कार्य कर सकता है। तथा इस परीक्षा में आवेदन करने के लिए कैंडिडेट का 12वीं पास होना जरूरी है।

SSC STENO

Steno भी SSC के अंर्तगत एक पद होता है जिसमें आवेदन करने के लिए कैंडिडेट का 12वीं पास होना जरूरी है।

SSC CRPF

अर्थात Central armed police force यह परीक्षा SSC द्वारा पुलिस कर्मचारियों के आवेदन के लिए आयोजित की जाती है।

SSC JHT

मतलब जूनियर हिंदी ट्रांसलेटर एक पद में आवेदन करने के लिए कैंडिडेट का हिंदी तथा अंग्रेजी भाषा का बारीकी से ज्ञान होना आवश्यक है। यह परीक्षा पास करने के बाद कैंडिडेट हिंदी ट्रांसलेटर के रूप में कार्य कर सकता है।

SSC JE

जूनियर इंजीनियर इसमें कैंडिडेट भारत सरकार के विभिन्न JE विभागों में कार्य करता है! JE में आवेदन के लिए कैंडिडेट के पास इंजीनियरिंग डिप्लोमा होना जरूरी है।

SSC की तैयारी कैसे करें

दोस्तों अक्सर कई लोगों के मन में सवाल आता है कि SSC के पेपर में किस तरह के सवाल पूछे जाते हैं? तो आपको यहां बता दें कि SSC का एग्जाम भी अन्य सरकारी नौकरियों की तरह ही होता है! अर्थात अन्य प्रतियोगी (competitive) परीक्षाओं की तरह ही SSC की परीक्षा भी होती है! मुख्यतः मैथ, रीजनिंग तथा अंग्रेजी इन विषयों पर अच्छे से तैयारी कर आप SSC की परीक्षाओं में विभिन्न पदों की भर्ती के लिए आवेदन कर सकते हैं तथा परीक्षा में उत्तीर्ण हो सकते हैं!

दोस्तों उम्मीद है अब आप जान चुके हैं कि SSC क्या है SSC की फुल फॉर्म क्या होती है? और एसएससी मैं आप किन-किन नौकरियों को प्राप्त कर सकते हैं!

SSC CGL की परीक्षा को पास करना कितना कठिन है

यह परीक्षा कितनी कठिन है यह निर्भर करता है आपके knowledge level पर । अगर आपने केवल शुरुआत की है तो आप समझ लीजिए कि गणित के arithmatic ,trigonometry, geometry, algebera ये चैप्टर पर अच्छी खासी command रखनी पड़ेगी। अब अगर आप पहले से ही इसमें comfortable हैं तो आपके लिए अपेक्षाकृत कम कठिनाई है। दूसरे नम्बर में आता है English, इसमें grammer, vocabulary,और reading comprehension के चैप्टर्स मजबूत होने चाहिए।

बस ये दो स्तंभों को क्लियर करते ही आप एक प्रबल दावेदार हो जाते हैं CGL exam को क्लियर करने के लिए।

तो पाठ्यक्रम की कठिनाई का स्तर आपको पता लग चुका है अब आते हैं परीक्षा के competition पर। क्योंकि आपकी ही तरह अन्य बहुत से लोग प्रबल दावेदार हैं और इसमें आप कितना धैर्य रखते हैं यही कठिनाई है।

क्या २ महीने में SSC-CGL को क्रैक किया जा सकता है

देखिये में सीधी बात करूंगा और हो सकता है कुछ लोगों को यह पसंद ना आये ।

नहीं, २ महीने पढ़ के आप एसएससी CGL नहीं निकल सकते ।

हाँ अगर आपका बुनियादी ज्ञान बहुत मज़बूत है, यानी आपको पूरा पाठ्यक्रम अच्छे से आता है और आपको सिर्फ संशोधन करना है तोह २ महीने पर्याप्त है । लेकिन अगर आपको शुरू से पूरा पाठ्यक्रम शुरू से करना है, तोह २ महीने का समय तो ना के बराबर है । किसी भी संगीन आकांक्षी से पूछ लीजिये, लगभग २ महीने तोह पूरे पाठ्यक्रम के संशोधन में ही लग जाते है ।

जिनका आधार (base) अच्छा है उनको कम से कम 6 महीने चाहिए तैयारी पूरी करने के लिए जिसमे से 4 महीने में पाठ्यक्रम पूरा करेंगे और आखिरी २ महीने संशोधन तथा मौक टेस्ट देंगे ।

जिनका आधार इतना अच्छा नहीं है उनको 8–12 महीने भी लग सकते है पूरी तैयारी करने के लिए ।

आजकल CGL में प्रतियोगिता काफी प्रचंड हो गयी है और हर साल अभियांत्रिकी जैसे क्षेत्रों के छात्रों की संख्या भी बढ़ रही है । उनसे मुकाबला करना है तोह २ महीने बिलकुल भी पर्याप्त नहीं है ।

मैं किसी भी व्यक्ति का उत्साह तथा हिम्मत भंग नहीं करना चाह रहा । अगर आपके पास २ महीने है तोह मेरे इस जवाब को कृपया नज़र अंदाज़ करें और पूरे ज़ोर शोर से पढाई करके परीक्षा दें ।

आपको परीक्षा की शुभकामनाये ।

उम्मीद है आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी तथा आपको कुछ नई जानकारी देने की यह कोशिश सफल रही होगी! यदि आपका कोई सवाल या विचार है तो आप हमें कमेंट में बताना ना भूलें! साथ ही इस जानकारी को समाज में उन सभी लोगों तक पहुंचाएं जो SSC की तैयारी करना चाहते हैं! ताकि वे भी आपकी सहायता से SSC के बारे में उपयुक्त जानकारी प्राप्त कर सके.

Post a Comment

Previous Post Next Post