कोरोना वायरस चेक करने वाला एप्प Download Now | Aarogya Setu Application | Coronavirus Check karne wala App

Coronavirus check karne wala app Aarogya Setu Application

COVID-19 से लड़ने के लिए Aarogya Setu App (कोरोना वायरस चेक करने वाला एप्पभारत सरकार की एक अनूठी पहल है। ऐप Corona बीमारी के Cases को ट्रैक करने में मदद करता है। इसके अलावा, यह निवारक उपायों के बारे में जानकारी प्रदान करता है। यदि User संक्रमित होने के जोखिम में है तो ये तुरंत उसको अलर्ट कर देता है, यह पता लगाने के लिए ऐप मोबाइल डेटा, जीपीएस और ब्लूटूथ का उपयोग करता है।


corona virus check karne wala app


आरोग्य सेतु ऐप (Aarogya Setu App) एक मोबाइल एप्लिकेशन है जो भारत सरकार द्वारा कोरोनवायरस से संक्रमित व्यक्ति का पता लगाने के लिए विकसित किया गया है। इस ऐप के माध्यम से, सरकार उन लोगों तक पहुंचने की कोशिश करती है, जो व्यक्ति COVID -19 संक्रमण का सामना कर रहे हैं और उन्हें आइसोलेशन जोन में रखते हैं। इसके अलावा, इस एप्लिकेशन की मदद से, भारतीय व्यक्ति जोखिम क्षेत्र की आसानी से जांच कर सकता है। यहां तक कि, अगर कोई भी COVID -19 से संक्रमित है, तो यह ऐप मोबाइल में ऐप इंस्टॉलर व्यक्ति को अलर्ट भेज देगा, ताकि स्वस्थ व्यक्ति खतरे के क्षेत्र से जल्दी से दूर जा सके।


Application Download link :

इस लिंक के माध्यम से या इस कोड को स्कैन करके आप इस ऐप को डाउनलोड कर सकते है..

To download the Aarogya Setu App for Android Phones click here.

To download the Aarogya Setu App for iPhone click here.

यह ऐप इंस्टाल करना इसलिए आवश्यक है क्योंकि यह ऐप कोरोना कि जंग में बहुत मददगार साबित है। क्योंकि इस एप्प के माध्यम से आप अपने आस पास होने वाले कोरोना पॉजिटिव लोगो की पहचान कर सकते हो। जिससे कि आप संक्रमित होने से बच सकते है।

क्या है आरोग्य सेतु ऐप?

जैसे की आप सब जानते ही है की आज देश भर में कोरोना संक्रमण की वजह से हजारों लोगो की मौत हो गयी है, हमारे देश में भी ये वायरस तेजी से एक दुसरे में फ़ैल रहा है। सरकार ने लोगो की सुरक्षा के लिए एक एप्प लांच किया है जिसका नाम Aarogya Setu App है। इस एप्प के द्वारा आपके आस पास जो भी कोरोना पोजिटिव लोग होंगे आप उनकी पहचान कर सकते हो। आप अपने ब्लूटूथ स्थान और मोबाइल नंबर दर्ज करके आप वायरस का आकलन कर सकते हैं।

दरअसल, यह ऐप एक कोरोना ट्रैकर ऐप है जो संदिग्ध इलाके या कहें कोरोना प्रभावित इलाके में यूजर को जाने से रोकता है।यह एक बेहद सुरक्षित एप है जिससे कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे और जोखिम का आंंकलन करने में मदद मिलती है।आरोग्‍य सेतु एप को ब्‍लूटूथ और जीपीएस डेटा की जरूरत पड़ेगी।आरोग्य सेतु कॉन्‍टैक्‍ट ट्रेसिंग के लिए आपके मोबाइल नंबर, ब्लूटूथ और लोकेशन डेटा का उपयोग करता है और बताता है कि आप कोरोना के जोखिम के दायरे में है या नहीं।

इस ऐप का इस्तेमाल करने से यूजर को संदिग्ध इलाकों की सारी जानकारियां मिल जाती हैं और आने-जाने में आसानी होती है।
एप हरे और पीले रंग के कोडों में आपके जोखिम के स्‍तर को दिखाता है। हरा रंग 'आप सुरक्षित हैं' तो कोई खतरा नहीं है इस बात का सूचक है वहीं पीला रंग आपको अलर्ट करता कि 'आपको बहुत जोखिम है' तो आपको हेल्‍पलाइन में संपर्क करना चाहिए।


Aarogya Setu Application कैसे काम करता है?| 

How Aarogya Setu Application Work ? 

मुझे आशा है कि नीचे दिया गया स्पष्टीकरण आपको समझने में मदद करेगा। 

मान लें, A और B एक ही इलाके में दो अलग-अलग समाजों में रहने वाले दो व्यक्ति हैं, और दोनों ने अपने मोबाइल डिवाइस में आरोग्य सेतु स्थापित किया है। वे एक दूसरे को जानते भी नहीं हैं।

दोनों खुशी से रह रहे है। और आरोग्य सेतु Application उन दोनों के Contact में आने वाले लोगो की Corona डिटेल चेक करता है। यह Application सिर्फ लोगो को कोरोना है की नहीं उसको ध्यान में रखता है।  

7 दिन के बाद, मान लीजिए कि बी कोरोना पॉजिटिव है।

अब B का आरोग्य सेतु Application एक्टिव हो जाता है और वो उसका आकलन करता है, यह आकलन मे वो पिछले 14 दिनों में B की यात्रा के इतिहास और उसके द्वारा किए गए संपर्कों को निर्धारित करता है। उस से पता चलता है की B शायद C के साथ 4 दिन पहले टकरा गया था, जो दुर्भाग्य से कुछ दवाइयां / किराना खरीदने के लिए B के इलाके में गया था।

मूल्यांकन डेटा को फिर सर्वर पर अपलोड किया जाता है।

मूल्यांकन के आधार पर, संक्रमण के जोखिम का विश्लेषण किया जाता है और अधिसूचना अलर्ट तब उन सभी को भेजे जाते हैं जो जोखिम में पाए जाते हैं। 

यदि एक अन्य व्यक्ति D को उसी इलाके में एक कोरोना संदिग्ध पाया जाता है, तो बुरी खबर है, लेकिन जब तक D की कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि नहीं हो जाती, तब तक आरोग्य सेतु A और C Application के अनुसार सुरक्षित हैं।

  • COVID-19 से लड़ने के लिए, हम सभी को इस ऐप को इंस्टॉल और इस्तेमाल करना चाहिए। यह एक आत्म-मूल्यांकन परीक्षण प्रदान करता है जो आपको संक्रमित होने के जोखिम के बारे में जानकारी प्रदान करेगा।
  • यदि आप उच्च जोखिम में हैं, तो ऐप हेल्पलाइन से संपर्क करने की सुविधा प्रदान करता है। इसके अलावा, यह आपके आस-पास रहने वाले संक्रमित लोगों के बारे में अलर्ट भी प्रदान करता है।
  • यह एप्लिकेशन COVID-19 के खिलाफ भारत के मिशन के लिए धन जुटाने की सुविधा प्रदान करता है, जो प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और आपातकालीन स्थिति निधि में राहत के लिए यूपीआई लिंक और बैंक विवरण प्रदान करता है।
  • एप्लिकेशन का उपयोग करने के लिए सरल है और 11 भाषाओं में उपलब्ध है।
  • यह उपयोगकर्ताओं के डेटा को किसी भी अनधिकृत पहुँच से बचाता है। इसलिए, इसका उपयोग करना 100% सुरक्षित है। इस एप्लिकेशन का उपयोग कैसे करें के बारे में अधिक जानने के लिए, आगे पढ़ें।

खुद सुरक्षित रहें और दूसरों को सुरक्षित रखें। भारत सरकार के द्वारा दिए गए Arogya Setu Application (कोरोना वायरस चेक करने वाला एप्प) Download करे और निर्देशों का पालन करें। और लॉक- डाउन को सफल बनावे।

धन्यवाद्।

Post a Comment

Previous Post Next Post